Realme 3 Pro रिव्यू : मिड-रेंज सेगमेंट का परफेक्ट ऑलराउंडर

0
46

Realme 3 Pro को भारत में लॉन्च कर दिया गया है. 29 अप्रैल को इसकी पहली सेल है. सेल से पहले यहां जानें इस स्मार्टफोन का आसान भाषा में रिव्यू.

Realme ने हाल ही में अपने पावर पैक्ड इवेंट में दिल्ली में मोस्ट अवेटेड स्मार्टफोन Realme 3 Pro को लॉन्च किया था. ये कंपनी के लाइनअप में फिलहाल सबसे पावरफुल स्मार्टफोन है. इसे Realme 2 Pro के अपग्रेड के तौर पर उतारा गया है. रियलमी ने इसे भारत में खासतौर पर शाओमी के Redmi Note 7 Pro को मात देने के लिए उतारा है. हमने इस स्मार्टफोन को काफी समय तक उपयोग किया है और अब हम इसका रिव्यू आसान भाषा में आपको समझाने जा रहे हैं. कंपनी ने इसकी शुरुआती कीमत 13,999 रुपये रखी है. भारत में फिलहाल ये प्राइस सेगमेंट काफी कॉम्पिटिटिव है.

बिल्ड क्वालिटी एंड डिजाइन:

सबसे पहले बॉक्स से निकालते ही इसे आप देखेंगे तो देखने में ये कंपनी के बजट स्मार्टफोन Realme 3 जैसा ही लगता है. डिजाइन के मामले में दोनों में बहुत कुछ समान है. खासतौर पर पहचनना इसलिए भी मुश्किल हो जाता है क्योंकि यहां भी ग्रेडिएंट डिजाइन है और कैमरे में येलो कलर रिंग डिजाइन दिया गया है जो Realme 3 जैसा ही है. यहां रियर पैनल में ही डुअल कैमरा सेटअप के अलावा फिंगरप्रिंट स्कैनर को जगह दी गई है. रियर पैनल प्लास्टिक का है, लेकिन देखने में प्रीमियम लगता है. अच्छी बात ये है कि प्लास्टिक रियर पैनल होने की वजह से ये होल्ड करने में काफी आसान है और काफी हल्का है. यहां भी रियर में डुअल टोन 3D ग्रेडिएंट डिजाइन है और किसी खास एंगल से देखने पर S-शेप वाले लाइट बीम को भी देखा जा सकता है.

 

बाकी बॉटम पैनल में स्पीकर ग्रिल, हेडफोन जैक और माइक्रो USB पोर्ट दिया गया है. यानी आपको यहां टाइप-C देखने को नहीं मिलेगा. पावर बटन राइट साइड में है और वॉल्यूम रॉकर लेफ्ट की तरफ दिया गया है. स्क्रीन की बात करें तो यहां वाटरड्रॉप नॉच के अंदर ही सेल्फी कैमरे को जगह दी गई है. स्क्रीन की साइज 6.3-इंच है. छोटे हाथ वालों को एक हाथ से हैंडलिंग में थोड़ी दिक्कत हो सकती है. स्क्रीन ब्राइट, क्लियर और कलर्स एक्चु्अल लगते हैं. फिर भी एक बात जोड़ना चाहूंगा कि स्क्रीन में वो सैमसंग के पैनल वाला मैजिक नहीं है.

सॉफ्टवेयर:

ये सॉफ्टवेयर एंड्रॉयड पाई बेस्ड ColorOS 6.0 पर चलता है. साथ में 5 मार्च तक का एंड्रॉयड सिक्योरिटी पैच भी मिलेगा. हमें जो यूनिट दिया गया था उसमें कुछ अपडेट्स आने बाकी थे. ऐसे में हमने सॉफ्टवेयर अपडेट आने के बाद ही सॉफ्टवेयर रिव्यू किया है. UI की बात करें तो इसमें कोई लैग नहीं है. अच्छी बात ये है कि ColorOS 6.0 स्किन पर कंपनी ने पहले की तुलना में काफी ज्यादा काम किया है और इसे काफी स्मूद बनाया है. यहां लेफ्ट स्वाइप में आपको स्मार्ट असिस्टेंट के लिए ऑप्शन मिल जाएगा. बाकी पहले से बेहतर नोटिफिकेशन्स से लेकर स्मार्ट जेस्चर तक यहां आपको काफी कुछ मिलेगा. रियलमी 3 में पेश किया ऐप ड्रार भी यहां मिलेगा. सारे कंट्रोल आइकन बेहतर साइज में हैं. UI हालांकि UI आपको काफी क्राउडेड लग सकता है. काफी प्री-लोडेड ऐप्स हैं, लेकिन सबसे अच्छी बात ये है कि आप किसी भी ऐप को डिलीट कर सकते हैं. इन सबके अलावा यहां Widevine L1 सर्टिफिकेशन भी दिया गया है, यानी आप नेटफ्लिक्स और अमेजन प्राइम वीडियो को फुल HD में देख सकते हैं.

 

परफॉर्मेंस:

मुझे रिव्यू के लिए दिया गया यूनिट 6GB रैम और 128GB मेमोरी वाला है. जैसा कि कंपनी ने अपना लॉन्च टैगलाइन ही स्पीड अवेकन रखा था. ऐसे में आप समझ सकते हैं कि स्पीड के लिए ये स्मार्टफोन खास है. कंपनी ने बेहद खास करते हुए इस सेगमेंट में स्नैपड्रैगन 710 AIE प्रोसेसर को दिया है. इसके अलावा यहां Adreno 616 दिया गया है. मुझे निजी तौर पर इस फोन में ऐप स्विचिंग, मल्टी टास्टिंग यहां तक हेवी गेमिंग में भी कोई परेशानी नहीं आई है. आप आराम से इंटरनेट ऐक्सेस करने समेत कई ऐप्स बहुत आसानी से यूज कर सकते हैं. यहां आपको कोई लैग, स्लोडाउन या कॉलिंग और ई-मेल करते हुए कोई दिक्कत नहीं आएगी.

 

कंपनी ने यहां खासतौर पर Fortnite का सपोर्ट दिया है, जोकि Realme 3 Pro को इस सेगमेंट के स्मार्टफोन्स से अलग बनाता है. ये गेम 30 fps, मीडियम क्वालिटी पर काफी स्मूद होकर चलता है. PUBG की बात करें तो हायर फ्रेम रेट पर आपको शायद कुछ लैग फिल हो सकता है. बाकी मिड रेंज स्मार्टफोन के हिसाब से आप Asphalt 9: Legends, Dead Trigger 2, Modern Combat 5 जैसे गेम्स आराम से खेल सकते हैं.

कैमरा:

कैमरे के सेक्शन में कंपनी ने काफी काम किया है. यहां Xiaomi के Redmi Note 7 Pro में दिए गए 48MP कैमरे के जवाब में यहां एक एक्सपर्ट अल्ट्रा HD मोड दिया है, जिससे 64MP में फोटोज क्लिक किए जा सकते हैं. ये मोड काफी फोटोज क्लिक कर उसे कंबाइन कर एक इमेज बना देता है. यहां आपको रिजोल्यूशन ज्यादा मिलती है, जिससे आप किसी इमेज को क्रॉप कर एडिट भी कर सकते हैं. वैसे यहां रियर में 16 मेगापिक्सल Sony IMX 519 प्राइमरी सेंसर और 5MP डेफ्थ सेंसर मिलेगा. प्राइमरी सेंसर वही है जो OnePlus 6T में दिया गया है. जोकि एक मिड रेंज स्मार्टफोन में दिए जाने को काफी खास बनाता है.

इतना ही नहीं अल्ट्रा HD मोड के अलावा यहां आपको नाइटस्केप मोड और क्रोमा बूस्टा का भी सपोर्ट मिलेगा. नाइटस्केप मोड में आपको इमेज कुछ क्रॉप्ड जरूर लगेगा. इसके अलावा इमेज क्वालिडिटी भी काफी हद तक इस मोड में बेहतर है. बाकी रेगुलर कैमरे में लो-लाइट फोटोग्राफी एकदम ज्यादा खास नहीं है, लेकिन मिड-रेंज स्मार्टफोन के हिसाब से अच्छी है और बाकी कंपनियों के स्मार्टफोन्स भी इस रेंज में ऐसी ही तस्वीरें ले पाते हैं. क्रोमा बूस्ट की बात करें तो ये आपको आसान भाषा में ज्यादा डिप कलर्स फोटोज में देता है.

ओवरऑल प्राइमरी सेंसर से दिन की फोटोज बेहद अच्छी हैं और पोट्रेट मोड में भी आपको इस सेगमेंट के हिसाब से अच्छा बोके इफेक्ट मिलता है. इन सबके अलावा रियर कैमरे से आप सुपर स्लो मोशन वीडियो 960fps पर रिकॉर्ड कर सकते हैं, जोकि इस सेगमेंट में पहली बार है, साथ ही यहां 4K वीडियो रिकॉर्डिंग का फीचर EIS के साथ दिया गया है. फोटोज के लिए AI और HDR अच्छा काम करता है.

सेल्फी कैमरे की बात करें तो यहां 25MP का कैमरा दिया है. यहां भी मैं HDR की तारीफ पहले करना चाहूंगा जोकि बेहतर रिजल्ट देता है. साथ ही बोके इफेक्ट और आर्टफिशियल ब्यूटी मोड भी अच्छा काम करता है. सेल्फी कैमरे से डिटेलिंग भी काफी मिलती है. रात के लिए स्क्रीन फ्लैश भी मिलता है. यानी आप कैमरे के ओवरऑल परफॉर्मेंस से निराश नहीं होंगे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here